इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा!

0
251

इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा! 1

बॉलीवुड में ऐसी कई जोड़िया हैं जो एक दुसरे से  प्यार करते थे लेकिन उन रिश्तों को कोई मुकाम नहीं मिला। सबकी वजह अलग-अलग थी। ऐसे में आज हम आपको यहाँ बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार नाना पाटेकर की ज़िन्दगी से जुड़ा  एक ऐसी राज़ की बात बताने वाले हैं जो शायद आज से पहले आप नहीं जानते होंगे. जी हाँ  एक समय में नाना पाटेकर भी एक दिग्गज अभिनेत्री से बेंतेहा मोहब्बत करते थे लेकिन किसी वजह के चलते उनकी शादी नहीं हो पाई थी।

इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा! 2

किस अभिनेत्री से प्यार करते थे नाना पाटेकर : खबरों कि माने तो नाना पाटेकर एक समय में खूबसूरत मनीषा कोइराला से प्यार करते थे। और मनीषा कोइराला भी नाना से प्यार करती थी लेकिन दोनों की ये प्रेम कहानी पूरी नही हो पाई थी क्योकि जिस वक़्त नाना पाटेकर और मनीषा कोइराला एक दुसरे से प्यार करते थे उस वक़्त नाना पाटेकर शादीशुदा थे।

इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा! 3

Manikarnika Tailer Out Watch Now

इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा! 4

इस वजह से नहीं हो पाई थी नाना पाटेकर और मनीषा कोइराला से शादी : खबरों कि माने तो जब मनीषा कोइराला और नाना पाटेकर एक दूसरे से शादी करना चाहते थे मनीषा कोइराला ने नाना पाटेकर के ऊपर दबाव बनाया कि वह अपनी पहली पत्नी नीलकांती को तलाक दे दें. लेकिन नाना मनीषा से प्यार तो करते थे, पर वो अपनी पहली पत्नी को तलाक नही दे कर उसे दुखी नही करना चाहते थे,और इसी कारण से धीरे-धीरे मनीषा कोइराला नाना पाटेकर से अलग हो गयी। नाना पाटेकर और मनीषा कोइराला ने सबसे पहली फ़िल्म ‘अग्निसाक्षी’ की थी।

इस अभिनेत्री से पागलों की तरह प्यार करते थे नाना पाटेकर, नाम जानकर यकीन नही होगा! 5

हाल ही में लंगर के झूठे बर्तन साफ़ करते नज़र आये थे नाना : नाना पाटेकर हमेशा ही सामाजिक कामों के लिए जाने जाते रहे हैं लेकिन हाल ही में नाना ने उस वक़्त सबको चौका दिया था जब सिर पर रुमाल बांधे मशहूर हीरो नाना पाटेकर रविवार को श्री स्वर्ण मंदिर में पहुंचे। उन्होंने गुरुद्वारें में जाकर लंगर खाकर और खुद बर्तन धोये। नाना पाटेकर ने श्री स्वर्ण मंदिर की वीजीटर बुक में लिखा था कि, “मेरी बचपन से ही यहीं इच्छा थी कि एक दिन में स्वर्ण मंदिर जरुर जाऊंगा आज 68 वर्ष बाद पहला मौका आया है जो कि आज मैं यहां वाहेगुरु की शरण में हूं, मझे यहां आकर काफी सुकून मिला, यहां ना तो कोई गरीब है ना कोई अमीर है ना जात का अंतर ना ही धर्म का अंतर है यदि पूरा भारत ऐसा ही हो जाए तो हमारे बीते स्वर्ण दिन वापस आएंगे।”



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here