ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी!

0
1596

बॉलीवुड में कई अमीर अभिनेता हैं, जिन्होंने अपनी फिल्मों से बहुत पैसा कमाया है। बॉलीवुड सितारों की शादियाँ बहुत ही धूमधाम से होती हैं लेकिन आज हम आपको ऐसे कुछ सितारों के बारे में बताने वाले हैं, जिन्होंने पैसा होते हुए भी शादी में खूब कंजूसी दिखाई और किसी भी मेहमान को अपनी शादी में नहीं बुलाया। तो आईये बिना कोई टाइम फोड़े शुरू करते हैं।

जॉन अब्राहम

ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी! 1

बॉलीवुड फिल्मजगत के हैण्डसम हंक अभिनेता जॉन अब्राहम एक मशहूर अभिनेता हैं लेकिन इन्होने अपनी शादी बिल्कुल ही गुपचुप तरीके से की थी। जिस समय इन्होने शादी की थी, उस समय जॉन का करियर कुछ अच्छा नहीं चल रहा था लेकिन जॉन ने चुपचाप शादी की और शादी करने के बाद भी इसकी कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की थी।

रानी मुखर्जी

ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी! 2

 90 के दशक की जानी मानी अभिनेत्री रानी मुखर्जी और आदित्य ने चुपचाप तरीके से शादी की थी। इसकी शादी में बॉलीवुड से केवल करण जौहर और वैभवी मर्चेंट ही शामिल हुई थीं। हजारों करोड़ के मालिक आदित्य चोपड़ा की शादी में मात्र 20 लोग ही उपस्थित थे। इसके बाद उन्होंने कोई रिसेप्शन भी नहीं दिया था।

सेलिना जेटली

ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी! 3

बॉलीवुड अभिनेत्री सेलिना जेटली ने अपने बॉयफ्रेंड पीटरहॉग के साथ वर्ष 2011 में शादी की थी। इन्होने भी एक अपनी शादी के बारे में एक महीने तक किसी को कुछ नहीं बताया था। और शादी के कुछ महीनो बाद ही ये माँ बन गई थी।

कुणाल कपूर

ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी! 4

अभिनेता कुणाल कपूर ने अमिताभ बच्चन की भतीजी नैना बच्चन से शादी की थी। नैना और कुणाल की शादी भी गुपचुप तरीके से की गई थी। इस शादी में बहुत ही कम लोग पहुंचे थे लेकिन गनीमत यह रही कि शादी के बाद इन्होने दिल्ली में रिसेप्शन दिया था।

मनोज बाजपेयी

ये है बॉलीवुड के सबसे कंजूस सितारे, जिन्होंने अपनी शादी नहीं बुलाया किसी भी! 5

बॉलीवुड के जाने माने अभिनेता मनोज बाजपेयी ने कंजूसी की हद ही कर दी थी।  बता दें कि जब मनोज बाजपेयी ने 2006 में शादी की थी तो इस शादी में इनके माता-पिता को भी पहुँचने का मौका नहीं मिला था।