भाषा विवाद में ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ को राज ठाकरे की पार्टी दी धमकी, शो मेकर्स ने मांगी माफ़ी!

0
98

टीवी के पॉपुलर शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में भाषा को लेकर आए एक एपिसोड्स की वजह से बवाल मच गया है। शो के एक एपिसोड में भाषा को लेकर बवाल मचा हुआ है। राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने आपत्ति जताते हुए मेकर्स और अभिनेता अमित भट्ट से माफी की मांग की है। अमित भट्ट ने माफी भी मांग ली है लेकिन मामला ठंडा पड़ता नहीं दिख रहा है।

भाषा विवाद में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को राज ठाकरे की पार्टी दी धमकी, शो मेकर्स ने मांगी माफ़ी! 9

बता दे की एक एपिसोड में ‘चंपक चाचा’ यानि अमित भट्ट ने डायलॉग बोला था कि मुंबई की भाषा हिंदी है। वीडियो वायरल होते ही एमएनएस ने धमकी दी कि अगर शो के निर्माता और कलाकार शो के माध्यम से सभी मराठी जनता से माफी नहीं मांगते हैं तो वो शो की शूटिंग होने नहीं देंगेे।

भाषा विवाद में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को राज ठाकरे की पार्टी दी धमकी, शो मेकर्स ने मांगी माफ़ी! 10

बता दे की ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के ट्विटर हैंडल से एक वीडियो भी पोस्ट किया गया है जिसमें शैलेश लोढ़ा कह रहे हैं कि ‘भारत की आर्थिक राजधानी और महाराष्ट्र का खूबसूरत शहर मुंबई, जहां कि स्थानीय और आधिकारिक भाषा मराठी है। हमने पिछले एपिसोड में चंपक चाचा के जरिए ये कहा था कि यहां कि आम भाषा हिंदी है। इसका भावार्थ ये ही था कि मुंबई ने खुले मन से हर प्रांत के लोगों को और हर भाषा को सम्मान दिया है, प्यार दिया है। फिर भी चंपक चाचा की इस बात से किसी को ठेस पहुंची हो तो हम तहेे दिल से माफी मांगते हैं।’

साथ ही शो में चम्पक चाचा के किरदार में नज़र आने वाले अभिनेता अमित भट्ट ने भी लिखती में माफ़ी मांगी है। अपने पत्र में भट ने लिखा ‘मैंने गलती से मुंबई की भाषा हिंदी कहा क्योंकि स्क्रिप्ट में ऐसा लिखा था. फिर भी मैं इस गलती के लिए माफ़ी मांगता हूं क्योंकि मराठी भाषा पर हमें अभिमान है। मैं विश्वास दिलाता हूं कि भविष्य में ऐसी गलती दोबारा नहीं होगी।’

भाषा विवाद में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को राज ठाकरे की पार्टी दी धमकी, शो मेकर्स ने मांगी माफ़ी! 11 भाषा विवाद में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' को राज ठाकरे की पार्टी दी धमकी, शो मेकर्स ने मांगी माफ़ी! 12

शो के मेकर असित मोदी ने ट्वीट कर लिखा- ‘मुंबई महाराष्ट्र में हैं और हमारे महाराष्ट्र की राजभाषा मराठी ही है। इसमें कोई दो राय नहीं है। मैं भारतीय हूं। महाराष्ट्रियन हूं और गुजराती भी हूं। सारी भारतीय भाषाओं का सम्मान करता हूं। जय हिंद।’  महाराष्ट्र नवनिर्माण फिल्म स्टाफ के चेयरमैन अमेया खोपकर ने कहा कि शो के मेकर्स को अच्छी तरह से पता है कि मुंबई में सबसे ज्यादा मराठी बोली जाती है। इसके बावजूद उन्होंने ये दिखाकर प्रोपेगेंडा प्रसारित किया।