कमल हासन के परिवार को विदेश घूमना पड़ा भारी, पूरा परिवार रह रहा है अलग अलग घरो में!

0
182

दोस्तों कोरोना वायरस के प्रकोप को कम कर करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने अगले 21 दिनों के लिए देश को लॉकडाउन कर दिया है। ऐसे में लोगों को भी सख्ती के साथ ही घर पर रहने के आदेश दिए हैं। क्वारंटीन और लॉकडाउन का आम लोगों के साथ ही बॉलीवुड सितारों पर भी असर देखने को मिल रहा है। ऐसे में सोनम कपूर पर भी इसका असर दिखा है।
कमल हासन के परिवार को विदेश घूमना पड़ा भारी, पूरा परिवार रह रहा है अलग अलग घरो में! 1

इस बीच बॉलीवुड अभिनेत्री और अभिेनेता कमल हासन की बेटी श्रुति हासन ने खुलासा किया है कि कोरोना वायरस के चलते उनका पूरा परिवार अलग हो गया है। श्रुति हासन ने कहा है कि वह, उनकी बहन, उनकी मां और पिता, ये चारों इस समय अलग-अलग रहकर क्वारंटाइन हो रहे हैं। श्रुति हासन का पूरा परिवार 10 दिन पहले विदेश यात्रा से लौटा है। जिसके चलते सभी ने खुद को अलग-अलग क्वारंटाइन करने का फैसला किया है।

कमल हासन के परिवार को विदेश घूमना पड़ा भारी, पूरा परिवार रह रहा है अलग अलग घरो में! 2

श्रुति हासन ने हाल ही में मुंबई मिरर से बात की। इस दौरान उन्होंने खुलासा किया कि उनका परिवार हाल ही में विदेश यात्रा से लौटा है। वहां से वापस आने के बाद उनका पूरा परिवार ने एहतियातन बरते हुए खुद को क्वारंटाइन कर लिया है।श्रुति हासन ने कहा कि वह और उनकी मां सारिका मुंबई में अलग-अलग फ्लैट में रह रही हैं। वहीं उनके पिता कमल हासन और उनकी छोटी बेटी अक्षरा चेन्नई के अलग-अलग फ्लैट में रहे हैं।

कमल हासन के परिवार को विदेश घूमना पड़ा भारी, पूरा परिवार रह रहा है अलग अलग घरो में! 3

श्रुति ने कहा, ‘मैं हमेशा से ही अकेले रही हूं तो उसमें कुछ नया नहीं है, लेकिन मुश्किल ये है कि अब घर से बाहर जाने का कोई विकल्प नहीं है और लगातार बढ़ता डर। इस बार लोगों ने पिछले कुछ दिनों से ही गंभीरता से लिया है।श्रुति हासन ने आगे कहा कि, शुक्र है कि जब तक मैं लौटी हूं तब तक सभी शूटिंग कैंसिल हो चुकी थीं। मेरे पूरे परिवार ने इस समय खुद को सबसे अलग कर लिया है। मेरी मां और मैं मुंबई में हैं, लेकिन अलग-अलग अपार्टमेंट में, वहीं पापा और मेरी बहन अक्षरा चेन्रई में हैं लेकिन वह दोनों भी अलग-अलग घर में हैं। हम सब ने इस दौरान यात्रा की है और इसलिए एक साथ रह कर क्वारंटाइन करने का कोई फायदा नहीं है। मुझे लगता है कि लोगों को भी ऐसा ही फैसला लेना चाहिए।’