लक्ष्मण सुनील लहरी ने सीता के साथ शेयर की पुरानी तस्वीर, रामायण से पहले इस शो में कर चुके है एक साथ काम!

0
52

दोस्तों कोरोना महामारी के चलते देश में लॉकडाउन के दौरान दूरदर्शन पर रामानंद सागर की ‘रामायण’ का प्रसारण फिर से किया गया था जिसके बाद से ही इस धारावाहिक के सितारे चर्चाओं में बने हुए है, रामायण के सीता राम और लक्ष्मण दीपिका चिखलिया, अरुण गोविल और सुनील लहरी को रातोंरात मशहूर कर दिया था। हाल ही में ‘रामायण’ के दोबारा प्रसारण के दौरान सुनील लहरी ने साथ दीपिका के साथ अपनी एक पुरानी तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की है।

लक्ष्मण सुनील लहरी ने सीता के साथ शेयर की पुरानी तस्वीर, रामायण से पहले इस शो में कर चुके है एक साथ काम! 7

बता दे की इस तस्वीर को सुनील ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। वहीं दीपिका चिखलिया ने ये तस्वीर अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर शेयर की है। तस्वीर में सुनील लहरी और दीपिका एक साथ नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर को शेयर करते हुए दीपिका ने लिखा-‘क्रम और बेताल।’ बता दें कि ‘रामायण’ से पहले दीपिका और सुनील ने रामानंद सागर के ‘विक्रम और बेताल’ में काम किया था दीपिका ने उन्हीं दिनों को याद करते हुए अपनी और सुनील की तस्वीर शेयर की है।

लक्ष्मण सुनील लहरी ने सीता के साथ शेयर की पुरानी तस्वीर, रामायण से पहले इस शो में कर चुके है एक साथ काम! 8

‘विक्रम और बेताल’ सीरियल साल 1988 में प्रसारित किया गया था। इस सीरियल में दीपिका और सुनील के अलावा अरुण गोविल भी थे। इसमें अरुण राजा विक्रमादित्य के किरदार में थे जबकि दीपिका और सुनील ने इसमें कई किरदार निभाए थे। टीवी से पहले रामानंद सागर सिनेमाजगत में सक्रिय थे। अचानक उनका मन बदला और उन्होंने टीवी के क्षेत्र में कदम रखना का फैसला लिया। बहुत लोगों को रामानंद सागर का ये फैसला सही नहीं लगा।

लक्ष्मण सुनील लहरी ने सीता के साथ शेयर की पुरानी तस्वीर, रामायण से पहले इस शो में कर चुके है एक साथ काम! 9

उन्होंने तय किया कि वो ‘रामायण’ बनाएंगे। रामायण बनाने के लिए रामानंद को फंड्स नहीं मिल रहे थे। इसका कारण ये था कि लोगों को नहीं लगता था कि मुकुट और पूंछ वाला कॉन्सेप्ट चलेगा। जब ‘रामायण’ के लिए फंड्स नहीं जुटा पाए तो उन्होंने 1986 में ‘विक्रम बेताल’ शो शुरू कर दिया। यह शो काफी हिट हुआ। इस शो के हिट होने के बाद रामांनद सागर को ‘रामायण’ के लिए फाइनेंसर्स मिलने लगे। एक इंटरव्यू में रामानंद सागर ने बताया था कि उस समय ‘विक्रम बेताल’ का एक एपिसोड बनाने में एक लाख रुपए लगते थे। बता दें कि रामायण के दोबार प्रसारण होने पर भी इस सीरियल को उतना ही प्यार मिल रहा है जैसे पहले मिलता था।