इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत!

0
379

दोस्तों बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार (14 जून) को बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 34 वर्ष के थे। कई बड़ी और हिट फिल्में देने वाले सुशांत न सिर्फ एक अच्छा एक्टर बनना चाहते थे, बल्कि उनके 50 ऐसे सपने थे, जिन्हें वो पूरा तो करना चाहते थे, लेकिन अब वो सभी सपने सुशांत के हाथों से लिखे चंद कागज के टुकड़ों पर दर्ज हो कर ही रह गए।

इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 15

बता दे की सुशांत ने 14 सितंबर 2019 को ट्विटर पर अपने इन 50 सपनों और इच्छाओं के बारे में कुछ बातें शेयर की थीं। आज हम आपको सुशांत की उन सभी इच्छाओं के बारे में बता रहे हैं। खबरों की माने तो ‘सुशांत सिंह राजपूत के घर से कोई संदेहास्पद सामान नहीं मिला है। बता दें कि सुशांत के कई सपने थे जिन्हें वह पूरा करने से चाहते थे। उन्होंने सोशल मीडिया पर उन ख्वाहिशों की लिस्ट शेयर की थी जिन्हें वह लाइफ में पूरा करना चाहते थे।

इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 16 इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 17 इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 18

इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 19

इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 20

इन 50 सपनों को करना चाहते थे सुशांत, स्वामी विवेकानंद पर डाक्यूमेंट्री बनाना चाहते थे सुशांत! 21

सुशात प्लेन उड़ाने से लेकर, नेत्रहीन लोगों को कंप्यूटर कोडिंग सिखाना चाहते थे। वह लैंबोर्गिनी गाड़ी खरीदना चाहते थे। इसके अलावा वह पर्यावरण के लिए भी योगदान देना चाहते थे और 1000 पेड़ों को लगाने की तैयारी कर रहे थे। उनकी इस लिस्ट में ट्रेन से यूरोप ट्रैवल करना चाहते थे। डिफेंस फोर्स के लिए स्टूडेंट्स को तैयार कराना चाहते थे, महिलाओं को आत्मसुरक्षा की ट्रेनिंग देना और क्रिया योगा सीखना जैसी कई चीजें करना चाहते थे। बता दे की सुशांत आखिरी बार फिल्म ‘छिछोरे’ में नजर आए थे। फिल्म को क्रिटिक्स और दर्शकों से काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला था।