सुशांत सिंह राजपूत को बाइपोलर डिसऑर्डर था, मनोचिकित्सक ने किए कई बड़े खुलासे

0
6527

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुंबई पुलिस ने तीन साइकेट्रिस्ट और एक साइकोथेरेपिस्ट के बयान दर्ज किए हैं. पुलिस के मुताबिक, सुशांत ने नवंबर 2019 से अपना इलाज कराना शुरू किया था. एक मनोचिकित्सक ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि सुशांत सिंह को बाइपोलर डिसऑर्डर था. वहीं दूसरी ओर बाकी सभी डॉक्टरों ने कहा कि दिवंगत अभिनेता गहरे तनाव में थे. हालांकि, उनमें से कोई भी डॉक्टर सुशांत के तनाव का कारण नहीं बता पाया.

बाइपोलर डिसऑर्डर एक ऐसी मानसिक बीमारी है, जिसमें व्‍यक्ति का व्यवहार बहुत जल्दी-जल्दी बदलता है. DNA India के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक, डॉक्टरों ने मुंबई पुलिस को बताया कि सुशांत सिंह को उनके ट्रीटमेंट पर भरोसा नहीं होता था. जिस कारण वो सिर्फ दो-तीन बार मिलने के बाद ही अपना डॉक्टर भी बदल देते थे. डॉक्टरों ने यह भी कहा कि सुशांत नियमित तौर पर उनके बताए अनुसार दवा भी नहीं लेते थे.

सुशांत सिंह राजपूत को बाइपोलर डिसऑर्डर था, मनोचिकित्सक ने किए कई बड़े खुलासे 3

एक मनोचिकित्सक ने बताया कि आखिरी बार जब सुशांत उनसे मिले, उस समय उनका बाइपोलर डिसऑर्डर का इलाज चल रहा था. लॉकडाउन शुरू होने के बाद से उनका ट्रीटमेंट फ़ोन से ही चल रहा था. इसके अलावा डॉक्टरों ने यह भी कहा कि पिछले दो-तीन महीनों से सुशांत सिंह ने ना सिर्फ अपनी दवाइयां लेनी बंद कर दी थीं, बल्कि वे उनके बताए सुझावों का भी पालन नहीं कर रहे थे. पूछताछ में यह भी सामने आया है कि सुशांत के साथ मनोचिकित्सकों से मिलने उनकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती भी जाया करती थीं.

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस में मुंबई पुलिस की कार्यवाही ने रफ्तार पकड़ ली है. कम समय में पुलिस कई बड़े लोगों से पूछताछ कर इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाने की कोशिश कर रही है. पिछले कुछ दिनों में मुंबई पुलिस ने 30 लोगों के बयान दर्ज किए हैं. 2013 में फिल्म ‘काई पो छे’ से बॉलीवुड में कदम रखने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के अपने अपार्टमेंट में आत्महत्या कर ली थी. उनकी मौत को लेकर चर्चाओं का बाज़ार गर्म है, कई लोग इसे हत्या मानकर CBI जांच की मांग कर रहे हैं. उनकी मौत के बाद से ही बॉलीवुड में भाई-भतीजावाद के चलन को लेकर भी एक बहस छिड़ गयी है.