इस बड़ी वजह के चलते जेठानी बबीता और देवरानी नीतू सिंह के बीच थी अनबन, इस खास मौके पर ख़त्म हुआ था दोनों का मनमोटाव!

0
168

दोस्तों आम लोगो के परिवारो के बीच अक्सर ममुटाओ और रिश्तो में खटास पैदा हो जाती है जिसके चलते दो परिवारों के बीच का रिश्ता थोड़ा ख़राब हो जाता है वही आम परिवारों की तरह ही बॉलीवुड फिल्म जगत के सितारों के रिश्‍तों में खटास देखने को मिलती है। खबरों की मानें तो देवरानी-जेठानी यानि नीतू और बबीता के रिश्ते शुरू से ही ठीक नहीं रहे हैं। दोनों के बीच सालों से बातचीत बंद है और झगड़ा इतना ज्‍यादा था कि नीतू सिंह करिश्मा की शादी में नहीं गई थीं। जी हां स्वर्गीय राज कपूर की पुत्रवधू, जिन्होंने 1966 में फिल्‍म ‘दस लाख’ में एक साथ काम किया था, दोनों के बीच रिश्‍ता बिल्‍कुल भी अच्‍छा नहीं था।

इस बड़ी वजह के चलते जेठानी बबीता और देवरानी नीतू सिंह के बीच थी अनबन, इस खास मौके पर ख़त्म हुआ था दोनों का मनमोटाव! 9

हालांकि यह माना जाता है कि उनके बीच नाराजगी का कारण कुछ आंतरिक पारिवारिक झगड़े हैं, किसी ने भी इस मामले के बारे में पब्लिक प्‍लेटफार्म पर कभी बात नहीं की है। इसीलिए किसी को भी इस बात की जानकारी नहीं है कि वास्तव में दोनों के बीच किस बात को लेकर लड़ाई हुई। लेकिन कुछ ऐसी घटनाएं सामने आईं हैं जो उनके बीच की झगड़े का प्रमाण हैं। जब 2010 में एक्‍ट्रेस नीतू कपूर ने अपनी मां राजी सिंह को खो दिया था, तो पूरा कपूर खानदान उनका सपोर्ट करने और अंतिम संस्कार के दौरान शामिल होने के लिए एक साथ आया था। लेकिन इन सब के बीच पूर्व एक्‍ट्रेस बबीता को कहीं भी नहीं देखा गया था।

इस बड़ी वजह के चलते जेठानी बबीता और देवरानी नीतू सिंह के बीच थी अनबन, इस खास मौके पर ख़त्म हुआ था दोनों का मनमोटाव! 10

सिर्फ बबीता ही नहीं, बल्कि उनकी बेटियां करीना और करिश्मा कपूर अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हुई थीं। लेकिन बबिता कपूर अपने देवर ऋषि कपूर के अंतिम संस्कार में मौजूद थीं, जिनका 30 अप्रैल 2020 को मुंबई में ल्यूकेमिया के कारण निधन हो गया था। इसके अलावा 2007 में, रणधीर कपूर की पत्नी बबीता और उनकी बेटियां नीतू कपूर की इकलौती बेटी की बिजनेस भरत साहनी के साथ शादी में शामिल नहीं हुई थीं। वह सारे फंक्‍शन से दूर रहीं और रणधीर कपूर को शादी में अकेले ही देखा गया। इससे पहले 2003 में नीतू भी अपनी भतीजी करिश्मा कपूर की बिजनेसमैन संजय कपूर के साथ शादी में शामिल नहीं हुई थीं। यहां पर भी ऋषि कपूर अकेले ही शादी में शामिल हुए थे।

इस बड़ी वजह के चलते जेठानी बबीता और देवरानी नीतू सिंह के बीच थी अनबन, इस खास मौके पर ख़त्म हुआ था दोनों का मनमोटाव! 11

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, 2012 में एक्‍टर सैफ अली खान के साथ करीना कपूर की शादी के बाद दोनों के बीच का झगड़ा खत्म हो गया था। जेठानी बबीता ने नीतू कपूर को शादी में पर्सनली आमंत्रित करके अपने बीच के झगड़े को खत्‍म करने की पहल की थी।  कपूर परिवार के करीबी सूत्र ने खुलासा किया, ”करीना की शादी में बबीता और नीतू रिश्तों को ठीक करने के अवसर के रूप में काम किया। बबीता पर्सनली शादी के निमंत्रण के साथ कृष्ण राज (नीतू और ऋषि कपूर के निवास) में नीतू से मिलने गई थीं। जो लोग झगड़े के बारे में जानते हैं, उन्हें एहसास होगा कि यह कितनी बड़ी बात है। ऐसा लगता है कि उन्होंने आखिरकार शांति बना ली है।”

इस बड़ी वजह के चलते जेठानी बबीता और देवरानी नीतू सिंह के बीच थी अनबन, इस खास मौके पर ख़त्म हुआ था दोनों का मनमोटाव! 12

वाइट-गोल्‍डन कलर का एक खूबसूरत सूट पहने नीतू अपनी भतीजी करीना कपूर के विवाह समारोह में शामिल हुई थीं और 62 वर्षीय एक्‍ट्रेस को यह कहते हुए सुना गया था कि “सैफ और करीना की शादी पूरे परिवार के लिए एक बहुत ही खुशी का मौका था। हम सभी इसे लेकर काफी उत्साहित हैं। यह एक खुशी का मौका है और हम सभी इसके लिए वहां रहेंगे।” उसी साल, दोनों करिश्मा के बेटे के दूसरे बर्थ डे का जश्न मनाने के लिए गोवा के लिए रवाना हुई थीं। दोनों महिलाओं के बॉन्‍ड को देखकर लोग शॉक हो गए थे। बबीता और नीतू के बॉन्ड को देखकर सभी और पूरा परिवार एक साथ बहुत खुश था।