जाने माने फिल्म निर्माता जे पी दत्ता की बेटी पक्की हुई शादी, पिता की तरह ही फिल्ममेकिंग के दौरान निधि को हुआ प्यार!

0
67

दोस्तों बॉलीवुड फिल्म जगत के जाने माने फिल्म निर्माता निर्देशक जेपी दत्ता और अभिनेत्री बिंदिया गोस्वामी की बेटी निधि दत्ता इस दिसंबर निर्देशक बिनॉय गांधी के साथ शादी के बंधन में बंधेंगी। निधि की मेहंदी समारोह में भी खूब नाच गाना हुआ।

जाने माने फिल्म निर्माता जे पी दत्ता की बेटी पक्की हुई शादी, पिता की तरह ही फिल्ममेकिंग के दौरान निधि को हुआ प्यार! 9

मेहंदी समारोह के तुरंत बाद निधि ने बताया कि उन्होंने Covid-19 और आंशिक लॉकडाउन के बावजूद सगाई का फैसला इसलिए किया क्योंकि एक परिवार के रूप में, हम हमेशा भगवान गणेश की उपस्थति वाले 11 दिनों के दौरान सभी शुभ कार्यों को करते हैं और यह एक ऐसी परंपरा है जिसे मेरे माता-पिता कायम रखना चाहते हैं। इसलिए हमारी सगाई बप्पा के आशीर्वाद से लगभग 25 लोगों की एक छोटी सभा में होनी तय हुई।”

जाने माने फिल्म निर्माता जे पी दत्ता की बेटी पक्की हुई शादी, पिता की तरह ही फिल्ममेकिंग के दौरान निधि को हुआ प्यार! 10

निधि कहती हैं, ‘मेरे माता-पिता की प्रेम कहानी और हमारे बीच बहुत सारी समानताएं हैं। मॉम और डैड की मुलाकात सरहद नामक एक फिल्म से हुई, जो कि डैड द्वारा निर्देशित थी और मॉम उसमें अभिनय कर रही थीं। हालांकि वह फिल्म कभी रिलीज़ नहीं हुई, पर वह फिल्म मेरे मॉम-डैड को साथ ले आयी।’

जाने माने फिल्म निर्माता जे पी दत्ता की बेटी पक्की हुई शादी, पिता की तरह ही फिल्ममेकिंग के दौरान निधि को हुआ प्यार! 11

निधि आगे कहती हैं, ‘बिनॉय को हमारी कंपनी के लिए एक फिल्म का निर्देशन करना था और मुझे उसमें अभिनय करना था। फिर से, वह फिल्म कभी रिलीज़ नहीं हुई, लेकिन हमारी खुशी की शुरुआत वहां से हुई। बिनॉय मेरी मुस्कान का कारण है, मेरा सपोर्ट सिस्टम है।’

जाने माने फिल्म निर्माता जे पी दत्ता की बेटी पक्की हुई शादी, पिता की तरह ही फिल्ममेकिंग के दौरान निधि को हुआ प्यार! 12

निधि के साथ अपने बंधन के बारे में बात करते हुए, बिनॉय कहते हैं, ‘निधि मेरा ब्रह्मांड है। वह मुझे हर तरह से बेहतर महसूस कराती है। अगर मैं खुश रहना चाहता हूं, तो मैं उसे फोन करता हूं। अगर मैं किसी चीज से दुखी हूं, तो मैं फोन करता हूं। यदि कुछ स्क्रिप्ट का विचार है, तो मैं उसे फोन करता हूं। वह मेरी सबसे अच्छी दोस्त और मार्गदर्शक है।’