मुंबई मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने चेक बाउंसिंग केस में कोइना मित्रा को सुनाई 6 महीने की सजा!

दोस्तों बॉलीवुड फिल्म जगत की अभिनेत्री कोएना मित्रा को चेक बाउंसिंग मामले में 6 महीने की जेल हो गई है। एक्ट्रेस पर मॉडल पूनम सेठी ने 2013 में चेक बाउंस होने के बाद केस दर्ज किया था।केस में मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट ने ऐक्ट्रेस कोइना मित्रा को 6 महीने की सजा सुनाई है। इसके साथ ही एक मॉडल पूनम सेठी द्वारा दर्ज कराए गए इस मामले में कोर्ट ने कोइना से 1.64 लाख रुपये की ब्याज सहित 4.64 लाख रुपये देने का आदेश भी दिया है।

पूनम सेठी नामक मॉडल ने उन पर 22 लाख रुपये वापस ना देने का इल्जाम लगाया है। दरअसल पूनम ने कोएना मित्रा पर साल 2013 में एक चेक बाउंस होने क सिलसिले में केस दर्ज कराया था। हालांकि कोइना ने इन सभी आरोपों से इनकार किया है और वह फैसले को हायर कोर्ट में चुनौती देंगी।

कोर्ट में सुनवाई के दौरान मजिस्ट्रेट ने कोइना की तरफ से दी गई दलीलों को खारिज कर दिया। दरअसल केस के मुताबिक, कोइना ने पूनम सेठी से अलग-अलग समय पर लगभग 22 लाख रुपये लिए थे। इस रकम को वापस करने के लिए कोइना ने एक बार पूनम को 3 लाख रुपये का चेक दिया था जोकि बाउंस हो गया था। पूनम ने कोइना को इसके बाद लीगल नोटिस भेजा था लेकिन जब उन्होंने तब भी रकम वापस नहीं की तो पूनम ने 10 अक्टूबर 2013 में कोर्ट में कोइना के खिलाफ केस दर्ज करा दिया।

बता दे की सुनवाई के दौरान कोइना ने आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि पूनम सेठी की फाइनैंशल कंडिशन ही ऐसी नहीं है कि वह 22 लाख रुपये उधार दे सकें। इसके अलावा कोइना ने पूनम पर उनके चेक चोरी करने का भी आरोप लगाया है। हालांकि कोइना के इन आरोपों को मजिस्ट्रेट ने खारिज कर दिया। कोएना मित्रा जो कुछ ही दिन पहले गाने “ओ साकी साकी रे” के रीमेक को लेकर खबरों में आई थीं, अब एक और कारण के चलते वह चर्चा का मुद्दा बन गई हैं। कोएना को चेक बाउंसिंग केस में मुंबई की अंधेरी महानगर मजिस्ट्रेट कोर्ट ने अपराधी ठहराया है और साथ ही उन्हें 6 महीने की जेल की सजा सुनाई है।

About Himanshu

Check Also

श्वेता तिवारी 41 साल की उम्र में बनी एक बार फिर दुल्हन, वायरल हुई दुल्हन के जोड़े में एक्ट्रेस की फोटोज!

दोस्तों टीवी जगत के पॉपुलर शो में से एक रहे ‘कसौटी जिंदगी की’ में प्रेरणा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *