बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार बेहद गंभीर, पत्नी सायरा तक को नहीं पहचान पा रहे!

0
404

दोस्तों बॉलीवुड के  दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार कुछ समय पहले सीने में संक्रमण होने के बाद उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती किया गया था, जहां उनका इलाज हो रहा है। सीने में संक्रमण की शिकायत के बाद लीलावती अस्पताल में भर्ती हुए भारतीय सिनेमा के दिग्गज कलाकार दिलीप कुमार को हल्का निमोनिया होने का पता चला था और फिर कुछ दिनों तक उनका इलाज होने के बाद उनको डिस्चार्ज कर दिया गया था । बता दें कि दिलीप कुमार 95 साल के हैं और  डॉक्टरों का कहना था कि दिलीप कुमार की सेहत में सुधार हो रहा है और वह अभी ठीक हैं। लेकिन खबर  आ रही है की दिलीप कुमार काफी बीमार हैं। कहा तो यह भी जा रहा है कि भले वे मेडिकली जिंदा हैं, लेकिन हमसे काफी दूर जा चुके हैं।

खबरों की मुताबिक 95 साल के दिलीप कुमार को जिंदा रखना पत्नी सायरा बानू के लिए मिशन से कम नहीं रह गया है। इस परिवार के बेहद करीबी ने बताया ‘वे किसी को पहचान नहीं पा रहे हैं, अपनी पत्नी सायरा तक को वे भूल चुके हैं। वे बात करने और चलने-फिरने में भी असमर्थ हैं। उन्हें बाथरूम तक भी ले जाना पड़ रहा है। वे किसी भी तरह से अब इस दुनिया से जुड़े महसूस नहीं हो रहे हैं।’ सूत्र का कहना है कि सायरा अपनी सारी बचत उन्हें जिंदा रखने में खर्च कर रही हैं।

दिलीप कुमार का जन्म 11 दिसम्बर, 1922 को वर्तमान पाकिस्तान के पेशावर शहर में हुआ था। उनके बचपन का नाम ‘मोहम्मद युसूफ़ ख़ान था। उनके पिता का नाम लाला ग़ुलाम सरवर था जो फल बेचकर अपने परिवार का ख़र्च चलाते थे। विभाजन के दौरान उनका परिवार मुंबई आकर बस गया। देविका रानी ने ही ‘युसूफ़ ख़ान’ की जगह उनका नया नाम ‘दिलीप कुमार’ रखा। पच्चीस वर्ष की उम्र में दिलीप कुमार देश के नंबर वन अभिनेता के रूप में स्थापित हो गए थे।

दिलीप कुमार ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म ‘ज्वार भाटा’ से की, जो वर्ष 1944 मे आई। हालांकि यह फ़िल्म सफल नहीं रही। उनकी पहली हिट फ़िल्म “जुगनू” थी। 1947 में रिलीज़ हुई इस फ़िल्म ने बॉलीवुड में दिलीप कुमार को हिट फ़िल्मों के स्टार की श्रेणी में लाकर खड़ा कर दिया था । दिलीप कुमार की शादी अभिनेत्री सायरा बानो से वर्ष 1966 मे हुई। विवाह के समय दिलीप कुमार 44 वर्ष और सायरा बानो की 22 वर्ष की थीं। 1980 मे कुछ समय के लिए उन्होंने आसमां से दूसरी शादी भी की थी।