ISIS के आतंकियों की शादी करवाती थी ये लड़की, अब वापस लौटना चाहती है अपने देश

0
77

 

एक समय इराक और सीरिया में बेहद विकराल रूप ले चूका आतंकवादी संगठन ISIS अब ख़त्म हो चूका है. इस हजारों आतंकवादियों ने हाल ही में समर्पण कर दिया. कई ऐसे भी लोग है जो अब इस संगठन का सच जान चुके है और वे वापस लौट रहे है. आज हम एक ऐसी ही लड़की की कहानी आपको बताने जा रहे है. हम बात कर रहे है. तूबा गोंडल की जिसकी उम्र उम्र 25 साल है। ब्रिटेन की रहने वाली तूबा कभी घर से फरार होकर सीरिया के रक्‍का चली गई थी।

यह इस संगठन के आतंकियों की शादियाँ करवाती थी इसकी वजह से इसे मैचमेकर के नाम से भी जाना जाता था. ये लड़कियों का ब्रेनवॉश करती थी और उन्‍हें आतंकियों से शादी करने के लिए राज़ी करवाती थी। तूबा गोंडल 2016 के आसपास गायब हो गई थी। तब बहुत दिनों तक उसका कुछ पता नहीं चला था। वह तब यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन के गोल्‍डस्‍म‍िथ कॉलेज की स्‍टूडेंट थी।

रोजावा इनफॉर्मेशन सेंटर के मुताबिक, अपने पति के निधन के बाद तूबा ने एक और शख्‍स से शादी की। वह पाकिस्‍तान से था और आतंकी था। अब उसकी भी मौत हो चुकी है। पति की मौत के बाद डेढ़ साल तक भटकती रही अपने दूसरे पति की मौत के बाद तूबा ने करीब डेढ़ साल भटकते हुए बिताए। ISIS को लेकर एजेंसियों के ऑपरेशन के कारण वह एक गांव से दूसरे गांव फिरती रही। वह कहती है,  हमें नहीं पता कि हम पर कौन हमला कर रहा है, कौन दाईं ओर है, कौन बाईं ओर है। हम किसके साथ हैं  यह पूरी तरह गड़बड़ था।  तूबा को बीते दिनों तुर्की सीमा के चेकपॉइंट पर रोका गया और फिर हिरासत में लेकर रिफ्यूजी कैंप भेज दिया गया।

लेकिन अब वह वापस ब्रिटेन अपने घर लौटना चाहती है। तूबा फिलहाल अपने दो बच्‍चों के साथ उत्तरी सीरिया के रिफ्यूजी कैंप में है। तूबा के पिता लंदन में बिजनेसमैन हैं। करीब दो महीने पहले तूबा ने तुर्की सीमा पर ISIS के Baghuz कैंप से भागने की कोश‍िश की थी। रिफ्यूजी कैंप में रोजावा इनफॉर्मेशन सेंटर से बातचीत में तूबा ने कहा, मैं घर वापस जाना चाहती हूं। ब्रिटने की जनता डरी हुई है। वह मुझ जैसों को अब साथ नहीं रखना चाहती, लेकिन ऐसा करना सही नहीं है। हम इस कैंप में अपनी जिंदगी नहीं बिता सकते हैं। मैं या मुझ जैसे लोग समाज के लिए कोई खतरा नहीं हैं। हम फिर से एक आम जिंदगी बिताना चाहते हैं।

तुबा अपने isis का साथ बिताये वक़्त के बारे में कहती है. महिलाओं और बच्‍चों का ISIS में है बुरा हाल तूबा कहती हैं, वे खुद को निर्दोष भी बताती है और कहती है की उन्होंने किसी को भी 4 साल में नुकसान नहीं पहुँचाया है. जबकि सीरिया में रहते समय उसने ब्रिटेन को एक गन्दा देश बताया था. और isis के आतंकी हमलो की भी प्रशंसा की थी.