Thursday, August 4, 2022
HomeHindiमहामारी कोरोना… अब बस चंद दिनों की मेहमान! नोबेल विजेता वैज्ञानिक का...

महामारी कोरोना… अब बस चंद दिनों की मेहमान! नोबेल विजेता वैज्ञानिक का बड़ा दावा

दुनियाभर में फैले पैनिक और लगातार बढ़ते आंकड़ों के बीच नोबेल विजेता वैज्ञानिक ने राहत देने वाला दावा किया है. वैज्ञानिक का दावा है कि विश्व में फैली महामारी कोरोना अब बस चंद दिनों की मेहमान है. दुनिया में फैला कोरोना का सबसे बुरा दौर खत्म होने वाला है. अब आने वाले दिनों में हालात सुधरते नजर आएंगे. नोबेल पुरस्कार से सम्मानित और स्टैनफोर्ड बायोफिजिसिस्ट माइकेल लेविट ने दावा किया है कि कोरोना जल्द खत्म हो जाएगा. माइकल वो ही वैज्ञानिक हैं, जिन्होंने चीन में कोरोना की स्थिति को लेकर सटीक भविष्यवाणी की थी. माइकेल ने 2013 में रसायन क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार जीता था.

जल्द कंट्रोल हो जाएगी महामारी

लॉस एंजेल्स टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में माइकेल ने दावा किया कि दुनियाभर में कोरोना को लेकर पैनिक ज्यादा फैल गया है. हालात उतने भयावह नहीं जितनी आशंका जताई गई थी. अब अगर वैज्ञानिक की बात सही मानी जाए तो इस खौफ के माहौल में यह काफी राहत भरी खबर है. दरअसल, माइकेल का दावा इसलिए अहम माना जा रहा है क्योंकि, उन्होंने चीन में फैले कोरोना को कंट्रोल को लेकर सही समय का आकलन किया था. विश्वभर के एक्सपर्ट्स का मानना था कि चीन को कोरोना से निपटने में समय लगेगा. लेकिन, माइकेल ने कहा था कि नए मामलों में गिरावट देखने को मिल रही है, जल्द ही इस पर कंट्रोल पा लिया जाएगा.

चीन को लेकर की गई भविष्यवाणी थी सही

माइकेल लेविट के एक ब्लॉग के मुताबिक, उन्होंने चीन में पैदा हुए हालात को देखते हुए कहा था कि कोरोना के नए मामलों में गिरावट देखने को मिली है. मतलब आने वाले दिनों में कोरोना वायरस से होने वाली मौत की दर घटने लगेगी. माइकेल की भविष्यवाणी सही साबित हुई और चीन में मार्च के पहले हफ्ते से ही मरने वालों की संख्या में गिरावट आई. चीन की इकोनॉमी भी वापस पटरी पर लौटती दिख रही है. कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित चीन का हुबेई प्रांत भी दो महीने के लॉकडाउन के बाद अब खुलने वाला है.

मौत का अनुमान भी सही निकला

माइकेल लेविट ने अपनी पहले भविष्यवाणी में ही चीन में कोरोना संक्रमित और उससे होने वाली मौता का आंकड़ा बता दिया था. उन्होंने चीन में 3250 मौत का अनुमान लगाया था. वहीं, कुल 80,000 लोगों तक इसके फैलने का अनुमान था. वहीं, दुनियाभर के एक्सपर्ट्स का मानना था कि यह संख्या लाखों में जा सकती है. अब तक चीन में 3287 मौत हो चुकी हैं और 81285 मामले सामने आए हैं.

अमेरिका भी जल्द पार पा लेगा

माइकेल लेविट अब दूसरे देशों के लिए भी चीन वाले ट्रेंड को ही फोलो कर रहे हैं. लेविट का दावा है कि अमेरिका भी जल्द कोरोना संक्रमण से उबर जाएगा. हालांकि, आशंका लगाई गई कि अमेरिका को उबरने में काफी समय लग सकता है. रोजाना आ रहे नए मामलों को देखते हुए माइकेल का दावा है कि ज्यादातर देशों में रिकवरी आने के संकेत हैं. चीन और दक्षिण कोरिया में नए मामलों की संख्या लगातार गिरी है. हालांकि, दूसरे देशों में आंकड़ा अभी भी परेशान करने वाला है, लेकिन इसमें बहुत ज्यादा तेजी नहीं आएगी. वैज्ञानिक का यह भी मानना है कि कई देशों में आधिकारिक आंकड़ा कम टेस्टिंग की वजह से नहीं आ रहा है. हालांकि, उनका दावा है कि मौजूदा आंकड़ों के आधार पर आगे संख्या में गिरावट ही देखने को मिलेगी.

सोशल डिस्टेंसिंग ही सही इलाज

माइकेल लेविट के मुताबिक, सोशल डिस्टेंसिंग सबसे जरूरी है. उनका मानना है कि बड़ी संख्या में लोगों का एक जगह इकठ्ठा होना खतरनाक है. माइकेल के मुताबिक, ये वायरस नया है, दुनिया की ज्यादातर आबादी के पास इससे लड़ने की शक्ति (इम्युनिटी) नहीं है. कोरोना वायरस की दवा बनने में भी अभी समय लगेगा. शुरुआती पहचान जरूरी है. टेस्टिंग के लिए बॉडी टेंपरेटर सर्विलांस भी जरूरी है. चीन ने यही फॉर्मूला लागू किया है. फिलहाल सोशल आइसोलेशन से ही इससे निपटा जा सकता है.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments