Tuesday, July 5, 2022
HomeHindiये डिवाइस लगाते ही बिन पैडल भागने लगी 'देसी साइकिल', आनंद महिंद्रा...

ये डिवाइस लगाते ही बिन पैडल भागने लगी ‘देसी साइकिल’, आनंद महिंद्रा ने ख़ुशी होकर दिया ये बड़ा ऑफर!

दोस्तों हर इंसान में कोई न कोई कला होती है जिसके दम पर वो अपनी एक अलग पहचान बनाने में सफल होते है, ऐसा ही कुछ ध्रुव विद्युत के फाउंडर गुरसौरभ सिंह का डिवाइस बहुत टेक सेवी है। ये हीरो या एटलस जैसी कंपनियों की आम साइकिल को इलेक्ट्रिक साइकिल में कन्वर्ट करता है। इस डिवाइस की सबसे बड़ी खासियत ये है कि इसके लिए साइकिल में कोई मॉडिफिकेशन नहीं करना पड़ता। मतलब साइकिल में ना तो कहीं से कटिंग करनी होती है, ना वेल्डिंग, बल्कि ये साइकिल में पैडल के ऊपर नट बोल्ट से कस जाता है।

 ये डिवाइस देसी साइकिल को अधिकतम 25 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाने का मौका देता है। इतना ही नहीं 20 मिनट पैडल मारने पर इसकी बैटरी 50% चार्ज हो जाती है। साथ ही ये एक बार फुल चार्ज होने के बाद 40 किमी तक जा सकती है। 170 किलोग्राम तक के वजन को खींच सकती है। ये आग और पानी से प्रूफ है। खेतों और कीचड़ में भी ये साइकिल को आराम से खींच सकती है। इसके अलावा इसमें फोन चार्ज करने की सुविधा भी है।

इस बार आनंद महिंद्रा को ऐसा सपना साकार करने वाला एक डिवाइस इतना पसंद आया है कि वो अब इसमें इन्वेस्ट करना चाहते हैं,इस डिवाइस को बनाया है ध्रुव विद्युत ने। गुरसौरभ सिंह के डिवाइस से आनंद महिंद्रा इतने प्रभावित हैं कि उन्होंने इसे लेकर तीन लंबे-लंबे ट्वीट किए हैं। साथ ही लिखा है। कि उन्हें ध्रुव विद्युत में निवेश करके गौरवान्वित महसूस होगा। उन्होंने ट्विटर पर लोगों से गुरसौरभ से मिलाने की अपील भी की है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments