Wednesday, July 6, 2022
HomeHindiपत्नी 5वी बार हो जाए प्रेग्नेंट इस लिए पति बन गया हैवान...

पत्नी 5वी बार हो जाए प्रेग्नेंट इस लिए पति बन गया हैवान , मासूम बच्ची की निकली आंख और किया ये घिनोना काम!

दोस्तों आज भी ऐसे कई लोगो के जो अन्धविश्वास में बहुत ही घिनोने काम कर रह है, एक ऐसा मामला सामने आया है, जो आपका होश उड़ा देगा। बता दे की खबर सामने आई है की एक शख्स को पांचवां बच्चा चाहिए था। पत्नी पांचवीं बार प्रेग्नेंट हुई, लेकिन उसका गर्भपात हो गया। पत्नी आसानी से प्रेग्नेंट हो जाये और बच्चे को जन्म दे, इसलिए पति अंधविश्वास में किसी की जान की भेठ चढ़ा दी। शख्स ने एक आठ साल की बच्ची का अपहरण किया। बच्ची की हत्या कर दी और उसकी एक आँख निकाल ली और इस आँख का ताबीज बनाकर पत्नी को पहना दिया।

खबरों के अनुसार मामला बिहार के मुंगेर जिला के सफियाबाद थाना क्षेत्र का है। यहाँ कुछ दिन पहले एक आठ वर्षीय बच्ची का क्षत विक्षत शव बरामद हुआ था। अब पुलिस ने दावा किया है कि अंधविश्वास में बच्ची की हत्या की गई और उसकी आंख निकालकर ताबीज बनाया गया। बच्ची की हत्या में शामिल चार आरोपियों को पकड़ लिया गया है। मुंगेर के पुलिस अधीक्षक जेजे रेड्डी ने बताया कि रामनगर के पदम गांव के रहने वाले दिलीप कुमार को पांचवां बच्चा चाहिए था। दिलीप की पत्नी का गर्भपात हो गया था। इस बार दिलीप किसी भी हाल में पत्नी का गर्भपात नहीं चाहता था। उसने अपनी पीड़ा अपने दोस्त दशरथ और तनवीर को बताई।

तनवीर ने खगड़िया के मधुरा गांव निवासी और ओझागुणी का काम करने वाले परवेज आलम से दिलीप को संपर्क करवाया। परवेज ने गर्भपात से बचने के लिए एक बच्ची की आंख से बनी ताबीज बनाकर पत्नी को पहनाने की सलाह दी। सफियाबाद सहायक थाना क्षेत्र में एक आठ वर्षीय बच्ची जब गंगा तट से अपने पिता के पास से वापस अपने घर लौट रही थी तभी आरोप है कि दिलीप, दशरथ और तनवीर बच्ची को अपने साथ ले गए और उसकी नृशंस तरीके से हत्या कर उसकी एक आंख निकाल ली और उसे खगड़िया ले गए।

बता दे की आंख को जलाकर उसके राख से ताबिज बनाई गई जिसे दिलीप की पत्नी को पहनाया गया। रेड्डी ने बताया कि इस मामले में ओझा गुणी का काम करने वाले परवेज सहित चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। सफियाबाद सहायक थाना क्षेत्र से एक बच्ची का क्षत विक्षत शव गांव के ही पास एक ईंट भट्ठे के समीप सुनसान स्थान पर पेड़ के नीचे से बरामद किया गया था। दायीं आंख निकली हुई थी और बाईं आंख को क्षतिग्रस्त कर दिया गया था। हाथ की अंगूलियों को भी बुरी तरह जख्मी कर दिया गया था। परिजन दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जता रहे थे, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई थी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments