Wednesday, July 6, 2022
HomeHindi2 से नहीं आ रहा था मोटर से पानी , जाँच करने...

2 से नहीं आ रहा था मोटर से पानी , जाँच करने पर पता चला जमीन में 280 फीट नीचे बठा था बेहद जहरीला जानवर!

दोस्तों मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले के खिलचीपुर के पास स्थित कुंडीबे गांव में किसान के होश उस समय उड़ गए, जब उसे पता चला कि, उसके खेत में लगे ट्यूबवेल का पानी इसलिए आना बंद हुआ है क्योंकि, ट्यूबवेल के पंप में 280 गहराई में एक गोह जा बैठी है। गोह ऐसे स्थान पर जा बैठी थी कि, जिससे ट्यूबवेल से पानी आना बंद हो गया था। मामले का खुलासा उस समय हुआ, जब किसान ने मशीन बंद होने पर उसे सुधरवाने के लिए मेकेनिक बुलवाकर पाइप निकलवाया। इसके बाद उन्होंने जो देखा उसने किसान और मिस्त्री के गोश उड़ा दिए।

गोह एक जहरीला जानवर है। ऐसे में मोटर पंप निकालने गया मिस्त्री किसी तरह का रिस्क नहीं लेना चाहता था। इसपर किसान की और से खिलचीपुर के सांप पकड़ने वाले कमल सिसोदिया को बुलया गया। उन्होंने रेस्क्यू कर गोह को सुरक्षित बाहर निकाला और जंगल मे छोड़ा तब कहीं ट्यूबवेल ने पानी देना शुरू किया। जिले के खिलचीपुर के कुंडीवे गांव में किसान जगदीश परमार के खेत 300 फ़ीट गहरे ट्यूबवेल से दो दिन से अचानक पानी आना बंद हो गया। किसान ने ट्यूबवेल पंप खराब समझकर मेकेनिक बुलवाया। रिपेयर करने वालों ने 20-20 फ़ीट के दो पाइप जैसे ही बाहर निकाले तो नजारा देखकर उनके होश उड़ गए।

शहशह की आवाज के साथ अंदर किसी जहरीले जानवर के होने की खबर पूरे गांव में फेल गई। निदान के लिए खिलचीपुर के सांप पकड़ने वाले कमल सिसोदिया को बुलाया गया। इतनी देर में गोह नीचे उतर गई। अंतः मशक्कत के बाद 20-20 फ़ीट के 14 पाइप बाहर निकाले गए तब आखिरी में ट्यूबवेल की मोटर पर बैठी हुई गोह दिखी। कमल सिसोदिया ने बताया कि, ट्यूबवेल पंप पर साढ़े तीन फीट से बड़ी गोह निकाली गई। गोह को ग्रामीणों की उपस्थिति में कमल सिसोदिया द्वारा जंगल मे छोड़ा गया। तब कहीं फिर से पाइप लाइन ट्यूबवेल में और कटे हुई केबल को ठीक कर डालकर पानी शुरू किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments